CSE क्या होता है – CSE Full Form, Job Salary,Syllabus,की पूरी जानकारी

हर साल लाखो बच्चे 12th पास करते है. उनके सामने सबसे बड़ा सवाल होता है की वो 12th के बाद क्या करे जिससे उनका करियर बन जाये. इसी कारण वो बहुत परेशान भी रहते है.

बहुत लोगो के हर में कंप्यूटर होता है क्योंकि उन लोगो को इसमें बहुत ज्यादा इंटरेस्ट होता है. जिस बच्चो को कंप्यूटर में बहुत अच्छा इंटरेस्ट होता है वो CSE कर सकते है.

आज हम जानेंगे की CSE Kya Hai. CSE Full Form क्या है. CSE की अवधि क्या है. आप CSE कब कर सकते है. इसमें आपको जॉब कैसे मिल सकती है.

इसमें आप कितने तक की सैलरी पा सकते है. इसका एग्जाम का पैटर्न क्या है. आप भारत के किन टॉप कॉलेज में एडमिशन ले सकते है. तो चलिए जानते है.

सबसे पहले हम जानते है CSE Full Form In Hindi.

"<yoastmark

CSE Full Form In Hindi

CSE का फुल फॉर्म हिंदी में: CSE का फुल फॉर्म Computer Science Engineering या कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग है. इसमें आपको कंप्यूटर के बारे में पढाया जाता है. जिससे आप बाद में जब जॉब करने जाते है तो आपको इससे किसी भी फील्ड में जॉब बहुत आसानी से मिल जाती है.

इसका सबसे बड़ा कारण ये है की कंप्यूटर का इस्तेमाल तो सब जगह होता है और उस कंप्यूटर को चलाने के लिए एक इंजिनियर भी चाहिए होता है.

CSE Kya Hai

सीएसई क्या है: कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग (सीएसई) कई विश्वविद्यालयों में एक अकादमिक कार्यक्रम है जिसमें कंप्यूटिंग के वैज्ञानिक और इंजीनियरिंग पहलू शामिल हैं।

CSE भी एक शब्द है जिसका उपयोग अक्सर यूरोप में इंजीनियरिंग सूचना विज्ञान शैक्षणिक कार्यक्रमों के नाम का अनुवाद करने के लिए किया जाता है। यह स्नातक और स्नातकोत्तर दोनों में विशेषज्ञता के साथ पेश किया जाता है।

CSE Kya Hota Hai

सीएसई क्या होता है: अभी आपने जाना की CSE Full Form, Computer Science Engineering है. इससे हमको समझ में आता है की यह एक कंप्यूटर का कोर्स है.

CSE में स्टूडेंट को कंप्यूटर की प्रोग्रामिंग लैंग्वेज और नेटवर्किंग सिखाई जाती है. इसमें स्टूडेंट को हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के संबंध में इनफॉर्मेशन सिस्टम की डिजाइनिंग, इम्प्लीमेंटेशन और मैनेजमेंट के बारे में सिखाया जाता है.

इसमें स्टूडेंट को प्रोग्रामिंग से लेकर कंप्यूटर मैनेजमेंट तक सब कुछ सिखाया जाता है. जिसके बाद वो अगर कही पर जॉब करने जाते है तो उन्हें बहुत ही आसानी से जॉब मिल जाती है.

इस फील्ड में लोगो की भी बहुत कमी है क्योंकि हर बिज़नस को करने के लिए कंप्यूटर की जरुरत पड़ती है. कंप्यूटर से वो अपने बिज़नस को ऑनलाइन करते है.

अब आपने जान लिया होगा की CSE Kya Hai. अब हम जानते है की CSE में आपको कैसा सिलेबस पढना पड़ता है. अब हम जानते है की आप CSE कब कर सकते है.

तो चलिए जानते है CSE Eligibility Criteria In Computer Engineering.

CSE Eligibility Criteria In Computer Engineering

कंप्यूटर इंजीनियरिंग में सीएसई पात्रता मानदंड: CSE करने के लिए आपको सबसे पहले 12th पास करना जरुरी है. बिना 12th पास के आप CSE नहीं कर सकते है. इसके बाद आपके पास 12th में गणित का विषय होना बहुत ही ज्यादा जरुरी है.

अगर आपका विषय गणित नहीं है तो भी आप इसको कर सकते है पर इसमें आप बहुत आगे तक नहीं जा सकते है क्योंकि इसमें आपके गणित का बेसिक ज्ञान नहीं रहता है.

इन दोनों Eligibility के बाद ही आप इस फील्ड में आ सकते है. अब हम जानते है की आपको CSE में कोंसे सब्जेक्ट पढने पड़ते है. तो चलिए जानते है CSE Syllabus.

CSE Syllabus Me Kitne Subject Hai

सीएसई पाठ्यक्रम में कितने विषय हैं: CSE में आपको 8 सेमेस्टर होते है. सभी में आपको अलग-अलग थ्योरी को पढना पड़ता है. इसमें आपको सबमे कॉमन 6 सब्जेक्ट पढने पड़ते है.

  1. Mathematics
  2. Data Structure & Algorithms
  3. Circuit Theory & Networks
  4. Computer Organization
  5. Digital Electronics & Logic Design
  6. Principles of Programming Language

ये 6 सब्जेक्ट आपको बेसिक से लेकर हाई लेवल तक पढाये जाते है. इन्ही 6 सब्जेक्ट में आपको थ्योरी और प्रैक्टिकल करना होता है. फिर जब आप इसमें महारथ हासिल कर लेते है तो आप इसमें जॉब के लिए काबिल हो जाते है.

अब हम जानते है कि CSE का सिलेबस कैसा होता है. तो चलिए जानते है CSE Syllabus Kaisa Hai

CSE Syllabus Kaisa Hai

सीएसई पाठ्यक्रम कैसा है: कुछ कॉलेज में स्टूडेंट के ऊपर एक सर्वे किया गया था. इस सर्वे में उनसे CSE के सिलेबस को लेकर सवाल किये गये थे. इस सर्वे के अनुसार CSE का कोर्स मध्यम कठिन होता है.

लोगो ने इस कोर्स को सरल नहीं बताया है. वो बताते है की इस कोर्स में उनको पढना बहुत पढता है. जिसमे उनको बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता है.

अब हम जानते है की CSE कोर्स की अवधि क्या होती है या इसमें आपको कितने साल तक पढना पड़ता है. तो चलिए जानते है CSE Course Syllabus Ki Duration Kya Hai.

CSE Syllabus Ki Duration Kya Hai

सीएसई पाठ्यक्रम की अवधि क्या है: CSE कोर्स की अवधि 4 साल की होती है. इसमें आपको हर साल 2 सेमेस्टर देना होता है. हर सेमेस्टर में आपको बेसिक से लेकर हाई लेवल तक पढाया जाता है.

अब हम जानते है की आप CSE करने के बाद क्या कर सकते है. तो चलिए जानते है CSE Karne Ke Bad Kya Kare.

CSE Karne Ke Bad Kya Kare

सीएसई करने के बाद क्या करे: CSE करने के बाद आप जहा पर भी जॉब करना चाहते है वहा पर आप अपने जॉब के फार्म डाल सकते है. अगर आप इसमें और आगे बढ़ना चाहते है तो आप इसमें Post Graduation भी कर सकते है.

अब हम जानते है की इसमें आपको कौन सी टॉप कंपनी जॉब दे सकती है. तो चलिए जानते है Top 10 Job Company Of CSE.

Top 10 Job Company Of CSE
  1. HCL
  2. Microsoft
  3. Google
  4. TCS
  5. Adobe
  6. Accenture
  7. IBM
  8. Sysco
  9. Yahoo
  10. Infosys

ये वो टॉप कंपनी है जो आपको CSE करने के बाद जॉब देती है. आपको यहा पर जॉब के साथ-साथ सैलरी भी बहुत अच्छी मिल सकती है. आप CSE करने के बाद इन कंपनी में अप्लाई कर सकते है.

अब हम जानते है की आपको CSE करने के बाद कितने रूपए तक की जॉब आसानी से मिल सकती है. तो चलिए जानते है CSE Job Salary Packege Kitna Milta Hai.

CSE Job Salary Packege Kitna Milta Hai

सीएसई नौकरी में कितना वेतन पैकेज मिलता है: अगर आप CSE में जॉब लेने जाते है तो आपको इसमें बहुत ही अच्छी सैलरी मिल सकती है. इसमें आपको शुरू में ही कम से कम 50,000 तक की सैलरी मिल सकती है.

फिर जब इसमें आपके पास अच्छा एक्सपीरियंस हो जाता है. तो आपकी सैलरी लाखो तक भी पहुच जाती है. भारत में किसी और जॉब में इतनी सैलरी आपको नहीं मिल सकती है.

अब हम जानते है की आपको वो कौन से टॉप कॉलेज है जो जॉब दे सकते है. तो चलिए जानते है CSE Top Collages

CSE Top 10 Collages

सीएसई टॉप 10 कॉलेज: भारत में बहुत सारे कॉलेज है जो आपको CSE की तैयारी करवाते है पर जो टॉप कॉलेज है वो ये है.

  1. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी मद्रास, मद्रास
  2. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी बॉम्बे, बॉम्बे
  3. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी खड़गपुर, खड़गपुर
  4. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी दिल्ली, दिल्ली
  5. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी कानपुर, कानपुर
  6. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी रुड़की, रुड़की
  7. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी गुवाहाटी, गुवाहाटी
  8. अन्ना यूनिवर्सिटी, चेन्नई
  9. जादवपुर यूनिवर्सिटी, कोलकाता
  10. इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी हैदराबाद, हैदराबाद

इन कॉलेज में आप अपना दाखिला करवा सकते है. इन कॉलेज में आपको CSE पढने की बहुत अच्छी सुविधा मिल सकती है. आज आप समझ गये है की CSE Kya Hai. इसमें आप जॉब कैसे पा सकते है. इसमें आपको कितनी सैलरी मिल सकती है.

अब यह भी पढ़े : Web Developer कैसे बने- वेब डेवलपर कि जॉब कैसे करे Developer Job Search

अब यह भी पढ़े : Android App Developer कैसे बने – एंड्राइड एप्प डेवलपर कि Job कैसे करे हिंदी में

FAQ – Frequently Asked Questions
Q1: What are the subjects in CSE Engineering 1st year

A1: Fundamentals of Computer Programming, Data Structures, Computer Networks, Object Oriented Programming, Design and Analysis of Algorithms, Computer Architecture and Organisation, Discrete Mathematics, Database Management Systems, Operating Systems, Software Engineering, Theory of Computation, Introduction to Communication Systems, Multi-device Programming, Advanced Java Programming

Q 2: CSE Full Form

A 2: Computer Science Engineering या कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग

Q 3: Can I do CSE after 12th?

A 3: Yes

Q 4: What is CSE syllabus?

A 4: CSE का Sallabus मुख्य रूप से कंप्यूटर टेक्नोलॉजी के Hardware और Networking पर आधारित रहता है .

Q 5: Is CSE tough?

A 5: नहीं

Q 6: Is CSE good for future?

A 6: जी हाँ, आने वाले समय में CSE की फ़ील्ड में आपर संभावनाएं है .

Q 7: Which is better CSE or IT?

A 7: IT और CSE दोनों बेस्ट है यह निर्भर करता है आप किस फील्ड में जाना चाहते है 

Q 8: Which NIT is best for CSE?

A 8: हाँ .

Q 9: Is CSE same as it?

A 9: नहीं, यह दोनों काफी अलग है लेकिन दोनों ही Technology छेत्र में काम करती है . 

आपको हमारी यह पोस्ट CSE Kya Hai अगर अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिये और मन में कोई सवाल है तो comment करके पूछ सकते है .

यह पोस्ट पढ़े :-