मेडिकल स्टोर कैसे खोले, Medicine का बिज़नेस, लाइसेंस, लोन, होलसेल

| | 6 Minutes Read

क्या आप फार्मेसी से डिप्लोमा करने के के बाद आगे क्या करे की खोज कर रहे है? क्या आप Medical की फील्ड में अच्छी खासी पढाई कर चुके है और अब अपना एक Business खोलना चाहते हैं? क्या आप पहले किसी Medical Shop पर काम करते थे पर अब आप अपना खुद का Medical Shop खोलना चाहते है? तो आप सही जगह हैं.

इस Article की मदद से आज हम आपको बताएँगे की Medical Store Kaise Khole और Medical Kholne Ke Liye Kya Kare.

इस Article की मदद से हम आपको वो सारी सुचना देंगे जो की एक Medical Store खोलने के लिए जरुरी है. साथ ही हम आपके Shop को खोलने के लिए लोन, Location, लाइसेंस की पूरी जानकारी देंगे.

Medical Store Kaise Khole

मेडिकल स्टोर कैसे खोले इसके लिए आपके पास फार्मेसी में डिग्री या डिप्लोमा होना चाहिए. जिसके साथ आपको pci.nic.in से एक फार्मेसी का लाइसेंस भी लेना होगा. इसके साथ आपको जरुरी दवाईयों का माल रखना होगा. जिसके लिए आपको एक हॉल एवं दुकान किराए पर लेनी होगी जो की आपको 12,000 से 15,000 रूपए महीने में मिल जायगी. तथा आपका कुल खर्चा 80,000 रूपए से लेकर 1,60,000 रूपए आयेगा. इसमें आप मेडिकल स्टोर शुरू कर सकतें है.

जिसके बाद आपको स्टोर के लिए ड्रग लाइसेंस के साथ एक शॉप लाइसेंस भी लेना होगा. तथा कुछ फार्मेसी से पास किये हुए लोग भी स्टोर पर काम करने के लिए लगाने होंगे. अब आप बिना किसी परेशानी के अपना मेडिकल स्टोर चला सकते है.

आप चाहे तो अपना मेडिकल स्टोर किसी कंपनी की फ्रैंचाइज़ी या डीलरशिप लेकर भी शुरू कर सकते है.

Medical Kholne Ke Liye Kya Kare

मेडिकल खोलने के लिए आपको ड्रग लाइसेंस चाहिए जो की आपको D Pharma, B Pharma, M Pharm, आदि की डिग्री से मिल जायेगा. जिसके लिए आप इनक कोर्लेस कर सकते है. इसके बाद आपको एक 230Sqft से 310sqft ताकि की एक दुकान और हॉल चाहिए. साथ ही आपको रेफ्रिजरेटर व् एयर कंडीशनर भी अपनी मेडिकल स्टोर खोलने के लिए चाहिए.

इन सब की मदद से आप अपनी मेडिकल स्टोर आसानी से खोल सकते है. जिसके बाद आपको बस सभी प्रकार की दवाओं को स्टोर कर के अपनी दुकान में रखना होगा. ताकि आम नागरिकों को आप जरूरतों के हिसाब से मेडिसन बेच सकें.

Medicine Ka Wholesale Business Kaise Kare

मेडिसिन का होलसेल बिजनेस करने के लिए आपको ड्रग लाइसेंस तो लेना ही होगा. साथ ही आपको एक हॉल लेना होगा जहाँ आप मेडिसिन को स्टोर कर के रख सकें जो की आपको 14,000 से 17,000 रूपए में मिल जायेगा. इसके बाद आपको मेडिसिन स्टोर के लिए एक Shop License (गुमास्ता लाइसेंस) भी लेना होगा. जो की आपको नगर निगम व नगर पालिका से मिल जायेगा.

इसके साथ ही मेडिसिन बिज़नेस के नाम पर पैसों का लेन देन करने के लिए व ऑनलाइन पेमेंट एक्सेप्ट करने के लिए आपको एक Current Account भी खुलवान होगा.

अगर आपका मेडिसिन बिज़नेस सालाना 20 लाख रूपए की कमाई करता है. तो आपको मेडिसिन बिज़नेस की GST भरने के लिए GST Number भी लेना होगा.

इसके बाद आप किसी भी कंपनी की मेडिसिन फ्रैंचाइज़ी ले सकते है. या फिर उनकी डीलरशिप ले कर डिस्ट्रीब्यूटर बन सकते है. तथा मेडिसिन का होलसेल बिज़नेस शुरू कर सकते है.

Medical Store Kholne Ke Liye Loan

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए लोन आप किसी भी सरकारी और प्राइवेट बैंक से ले सकते है. लेकिन अगर आप अपने मेडिकल स्टोर को MSME में रजिस्टर करवा लेते है तो आप MSME सर्टिफिकेट ले कर. मुद्रा लोन, MSME Business Loan के लिए आवेदन कर सकते है.

जिसके बाद अपोक मेडिकल स्टोर के लिए बिज़नेस लोन मिल जायेगा. जिस पर आपको गवर्नमेंट सब्सिडी भी मेलेगी. तथा गवर्नमेंट स्कीम के तहत मिलने वाले लोन पर आपको ब्याज भी कम लगेगा.

इस तरह आप MSME में रजिस्टर होकर अपनी मेडिकल स्टोर खोलने के लिए लोन ले सकते है. तथा आप मेडिकल स्टोर शुरू कर सकते है.

Medicine Kaise Banti Hai

दवाइयां कैसे बनती है: मेडिसिन बनाने की शुरुआत होती है Chemical Ingredients से, इन Ingredients को हम Active Pharmaceutical (फर्मक्युतिकल) Ingredients के नाम से भी जनता हैं. इन Active Ingredients को सबसे पहले बहुत ही बारीकी से पिसा जाता है और इन्हें पिसते वक़्त इनमें और भी कई सारे Chemical को मिलाया जाता है.

जो आगे चल कर हमारे शारीर को ख़राब करने वाली कोशिकाओं को नष्ट करती हैं.

इन सभी मिले हुए Chemicals को फिर बाद में बड़ी बड़ी मशीनों की मदद से बड़ा कर इन्हें टेबलेट का रूप दिया जाता है. इसके बाद इन टेबलेट्स के कई सारे टेस्ट्स होते हैं जैसे की: Quality Test, Hygiene Test, In-Body Experiments इत्यादि.

जब भी किसी Batch का एक Sample इन सभी टेस्ट्स को पास कर लेता है उसके बाद ही पुरे Batch को डिलीवरी के लिए भेजा जाता है अन्यथा पुरे Batch की दवाओं को दुबारा से प्रोडक्शन के लिए भेज दिया जाता है.

Medical Store Ka Licence Kaise Banaye

मेडिकल स्टोर के ड्रग लाइसेंस D.Pharma, B. Pharma, M.Pharma इन तीनो में से किसी एक की marksheet की मदद से बन जाता है. जिसके लिए आपको pci.nic.in की वेबसाइट पर जा कर ऑनलाइन फार्मेसी लाइसेंस के लिए आवेदन करना होगा.

तथा NOC, Shop License, Marksheet, Aadhar Card, Pan Card, Photo आदि को अपलोड कर के आप अपना मेडिकल स्टोर का लाइसेंस प्राप्त कर सकते है.

Medicine Me Mg Ka Full Form

Mg का Full Form: Mili Gram होता है.

Medicine Me HS Ka Matlab

मेडिसिन में  HS का मतलब At Bedtime (सोने से पहले) होता है.

Medicine Me IP Ka Matlab

मेडिसिन में IP का मतलब Indian Pharmacopeia होता है.

Medicine Me OD Ka Matlab

मेडिसिन में OD का मतलब दिन में एक बार होता है.

अगर आपको हमारी यह पोस्ट Medical Store Kaise Khole और Medical Kholne Ke Liye Kya Kare पसंद आई.

तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर और अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप Comment कर के पूछ सकते है.

Author:

मेरा नाम आदित्य कुमार है, मैं इस वेबसाइट पर Startup, Business और Finance के बारे में जानकारी Share करता हु. मैंने पढाई में BBA और MBA (Entrepreneurship and International Business Development) में किया है. आप मुझ से बिज़नेस और स्टार्टअप से जुड़े अपने प्रिश्न पूछ सकते है.

Questions Answered: (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *