Medicine कैसे बनती है – Medicine का Wholesale Business कैसे शुरू करे

क्या आप फार्मेसी से डिप्लोमा करने के के बाद आगे क्या करे की खोज कर रहे है ? क्या आप Medical की फील्ड में अच्छी खासी पढाई कर चुके है और अब अपना एक Business खोलना चाहते हैं ? क्या आप पहले किसी Medical Shop पर काम करते थे पर अब आप अपना खुद का Medical Shop खोलना चाहते है? तो आप सही जगह हैं.

Medicine Kaise Banti Hai - Medicine Ka Wholesale Business Kaise Kare
Medicine Kaise Banti Hai – Medicine Ka Wholesale Business Kaise Kare

इस Article की मदद से आज हम आपको बताएँगे की Medicine कैसे बनती है और Medicine का Wholesale Business कैसे शुरू करे.

इस Article की मदद से हम आपको वो सारी सुचना देंगे जो की एक Medical Store खोलने के लिए जरुरी है साथ ही हम आपके Shop को खोलने के लिए लोन, Location, लाइसेंस की पूरी जानकारी देंगे.

तो चलियेशुरु करते है मेडिसिन का Business कैसे करे Article पढने से….

Medicine Kaise Banti Hai

मेडिसिन बनाने की शुरुआत होती है Chemical Ingredients से, इन Ingredients को हम Active Pharmaceutical (फर्मक्युतिकल) Ingredients के नाम से भी जनता हैं.

इन Active Ingredients को सबसे पहले बहुत ही बारीकी से पिसा जाता है और इन्हें पिसते वक़्त इनमें और भी कई सारे Chemical को मिलाया जाता है जो आगे चल कर हमारे शारीर को ख़राब करने वाली कोशिकाओं को नष्ट करती हैं.

इन सभी मिले हुए Chemicals को फिर बाद में बड़ी बड़ी मशीनों की मदद से बड़ा कर इन्हें टेबलेट का रूप दिया जाता है. इसके बाद इन टेबलेट्स के कई सारे टेस्ट्स होते हैं जैसे की: Quality Test, Hygiene Test, In-Body Experiments इत्यादि.

जब भी किसी Batch का एक Sample इन सभी टेस्ट्स को पास कर लेता है उसके बाद ही पुरे Batch को डिलीवरी के लिए भेजा जाता है अन्यथा पुरे Batch की दवाओं को दुबारा से प्रोडक्शन के लिए भेज दिया जाता है.

Medicine Ke Bare Mein Jankari

जो Batch की दवांए ये सभी टेस्ट पास कर जाती है फिर उन्हें अलग अलग कंपनियों के Order के अनुसार उन कंपनियों को डिलीवर कर दिया जाता है. 

वो कंपनिया इन दवाओ पे अपने अपने कंपनी की पैकिंग कर के फिर Market में उपलब्ध व्होलसेलर, फ्रैंचाइज़ी, डीलर इत्यादि तक  पहुंचती हैं. और यहीं पर इनके मार्जिन पहले से फिक्स कर लिए जाते है. इसके बाद ये दवाइयां Normal Consumer तक Expire होने से पहले पहुंचा दी जाती है.

जिन दवाइयों का पत्ता बिना बिके Expire हो जाता है उन्हें दुबारा वापस से फैक्ट्री भेज दिया जाता है और वहां वो उन दवाइयों को फिर से सभी टेस्ट करने के बाद अगर वो सही है इस्तेमाल करने के लिए तो Consumer तक पहुँचाया जाता है अन्यथा उन दवाओं को और शक्ति शाली दवाएं बनाने के लिए प्रयोग किया जाता है.

Medicine Ka Wholesale Business Kaise Kare

मेडिसिन का Business करना काफी फायदेमंद साबित हो सकता है क्यूंकि कई बार Market में आने वाली कुछ नई कंपनियां 40% से लेकर 65% तक का मार्जिन रेट देती हाँ जिसके बारे में आम नागरिकों को उतनी जानकारी नही रहती पर जितने व्होलसेलर एवं Distributer है वो इसका बहुत ज्यादा लाभ उठाते हैं.

मेडिसिन का Wholesale Business शुरू करने के लिए आपको कई सारी बातों का ध्यान रखकर आपको यह Business शुरू करना होगा जैसे की:

  • Business की Location
  • Business में लगने वाली लगत
  • Business Ke Liye Licence
  • Business के लिए Loan
  • Business की Marketing कैसे करे

Medicine Ka Business Kaise Kare

मेडिसिन का Wholesale Business शुरू करने के लिए आपको सबसे पहले एक अच्छी Location एवं खुले शटर वाली दूकान लेनी होगी ताकि कई सारे Customer जब काउंटर पर आये तो उन्हें लाइन लगनी न पड़े और और कई सारे लोगों की दवैओं की जरुरत को जल्द से जल्द पूरा कर पाए.

इसके बाद यह दूकान खोलने के लिए ऐसे Location की जाँच करे जहाँ  या तो हॉस्पिटल उपलब्ध हो या जहाँ कई किलोमीटर तक कोई भी Medical Shop न उपलब्ध हो ऐसे में आप कई सैलून तक काफी ज्यादा मुनाफा कम सकत है हैं साथ ही अगर आपकी Wholesale की दूकान थोड़े सन्नाटे में होगी तो बाकी के Retailers को आपके दूकान से भीड़ कम होने के कारण दवाइयां लेने में आसानी होगी.

इसके बाद आपको आपका Business शुरू करने के लिए निचे दिए कुछ जरुरी दस्तावेजों की जरुरत पड़ती है जैसे की:

  • GST
  • MSME 
  • Gumasta
  • Birth Certificate
  • Address Certificate
  • Passport Size Photograph
  • Business Template with Signature
  • Educational Qualification Certificate
  • Experience Certificate or Appointment Letter of Eligible Person

इन सभी दस्तावेज़ों को कैसे प्राप्त करना है उसके लिए हमने अलग से आर्टिकल पहले से ही लिखन रखा है आप इन Articles को विस्तार में पढ़ने के लिए  इन लिंक्स पर Click कर के पढ़ सकते हैं.

Medical Store Ka Licence Kaise Banaye

किसी भी तरह का Drugs या खाद्य पदार्थ का बिज़नेस खोलने से पहले आपको आपके दूकान के लिए एक जरुरी लाइसेंस लेना पड़ता है अन्यथा आपके द्वारा बेचे गए सामान की किसी भी प्रकार की शुद्धि का प्रमाण होने के कारन आपको कुछ साल की जेल एवं आपको जुरमाना भरना पण सकता है.

इसी तरह आपके मेडिकल स्टोर के लाइसेंस के लिए सबसे पहले आपके पास D.Pharma, B. Pharma, M.Pharma इन तीनो में से किसी एक का Certificate होना चाहिए इस बाद ही आप इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं.

अगर आपको Computer चलना आता है तो आप निचे दिए हुए Button की मदद से आपके Business के लिए ये फॉर्म Apply कर सकते हैं. अगर आपको इस्तेमाल करना नहीं आता तो आप आपके किसी भी नज़दीकी Cyber Cafe  में जाकर इसके लिए Apply करा सकते हैं.

Medicine Ki Jankari Ke Liye App

FAQs

Medicine Me Mg Ka Full Form

Mg का Full Form: Mili Gram होता है.

Medicine Me HS Ka Matlab

मेडिसिन में  HS का मतलब At Bedtime (सोने से पहले) होता है.

Medicine Me IP Ka Matlab

मेडिसिन में IP का मतलब Indian Pharmacopeia होता है.

Medicine Me OD Ka Matlab

मेडिसिन में OD का मतलब दिन में एक बार होता है.

यह पोस्ट पढ़े :-