Hotel का Business कैसे करे – होटल के प्रकार, लाइसेंस कैसे मिलेगा, कितने पैसे लगेंगे

आज के समय में होटल का बिज़नेस काफी फेल चूका है और भारत के हर राज्य में आपको छोटे-बड़े एवं कई तरह के होटल देखने को मिल जाते है. आज कल कई तरह के टूरिस्ट आते है कुछ सिर्फ एक दो दिन के लिए आते है तो कुछ ज्यादा समय के लिए ऐसे में उन्हें ठहरने और खाने की उत्तम व्यवस्था होटल द्वारा दी जाती है. होटल द्वारा यह सर्विसेज देकर अच्छी कमाई की जाती है.

इस पोस्ट में आप जानेगे की आप किस तरह से अपना Hotel Ka Business Kaise Kare, कितना खर्चा हो सकता है, होटल कितने तरह के होते है और कितना प्रॉफिट कमा सकते है. यदि आप भी खुद का होटल खोलकर बिज़नेस शुरू करना चाहते है तो इस पोस्ट को विस्तार में पढ़िए.

Hotel Ka Business Kaise Kare

होटल का फुल फॉर्म क्या है

होटल का फुल फॉर्म “House Of Table Eating and Living” है जिसे हिंदी में “हाउस ऑफ़ टेबल ईटिंग एंड लिविंग” अर्थात एक ऐसा घर जहा टेबल पर बैठकर खाने की व्यवस्था होती है एवं रहने के लिए जगह होती है या कमरा होता है.

होटल कितने प्रकार के होते हैं

हमारे देश में कई तरह के होटल होते है कुछ छोटे होते है तो कुछ बड़े, किसी में अच्छी सर्विसेज होती है तो किसी में सामान्य भी. इस तरह होटल को कुछ केटेगरी में बांटा गया है जो इस प्रकार है :

  1. हेरिटेज होटल 

इस तरह के होटल मुख्य रूप से दिल्ली, राजस्थान और मध्यप्रदेश जैसे राज्यों में है. ये होटल भारत के पुराने गौरव, संस्कृति और भव्यता का प्रतिक है. इस तरह के होटल ज्यादातर पुरानी हवेलियों और महल हुआ करते है.

  1. लक्ज़री और सितारा होटल 

इस प्रकार के होटल विश्वस्तरीय सेवाएं, बुनियादी ढांचे और समस्त प्रकार की सुविधाओं से युक्त होते है. ये होटल अपने ग्राहकों को बेहतर खाना और एक बेहतर कमरे जो हर तरह की सुविधाओं से परिपूर्ण होते है इस तरह का वातावरण देते है. इस तरह के होटलों की कीमते भी अधिक होती है. भारत में 5 स्टार और 7 स्टार वाले होटल भी मौजूद है. 

  1. रिसॉर्ट्स 

छुट्टियों के दिनों में घूमने, एकांत के लिए रिसॉर्ट्स में समय बिताना फायदेमंद होता है. भारत में अधिकतर रिसॉर्ट्स हिल स्टेशनो और समुद्र के किनारे वाले शहरों में पाए जाते है.

  1. सामन्य बजट होटल 

भारत के हर राज्य और अधिकतर शहरों में आपको बजट होटल देखने को मिल जाते है. जिन लोगो के पास ज्यादा पैसा नहीं होता या जो बाहर घूमने जाते है जिनका बजट थोड़ा कम होता है इस तरह के होटल उन लोगो के लिए होते है. इसमें भी आपको कई तरह की सुविधाएं मिल जाती है. 

Hotel Banane Me Kitna Paisa Lagta Hai

होटल बनने में कितना पैसा लगता है: होटल की कीमत इस बात पर निर्भर करेगी की आप किस लोकेशन पर अपना होटल खोलना चाहते है, किस तरह का होटल खोलना है यह बाते भी महत्वपूर्ण होती है. एक होटल को खोलने में आपके 8 से 10 लाख रूपये तक लग सकते है. वहीँ अधिक खर्च पर आप एक शानदार होटल बनवा सकते है.

Hotel Ka Business Kaise Kare

होटल का बिजनेस कैसे करे: होटल का बिज़नेस आज के समय में काफी फेल चूका है और भारत के हर राज्य और शहर में अब आपको होटल देखने को मिल सकते है. यदि आप होटल से अच्छे पैसे कमाना चाहते है तो उस शहर का चुनाव करे जो एक पर्यटक स्थल हो जहा यात्रियों, विदेशियों और सैलानियों का आना जाना लगा रहता है. इस स्तिथि में आप होटल से काफी अच्छी कमाई कर सकते है.

होटल का बिज़नेस शुरू करने के लिए आपके पास जमीन, कर्मचारी, मार्केटिंग और बहुत सारा पैसा होना चाहिए तभी आप एक अच्छी जगह और बेहतर सुविधा वाला होटल  बनाकर इसका बिज़नेस कर पाएंगे.

होटल का बिज़नेस करने के लिए सबसे पहले आपके पास कोई जगह या दुकान होना जरुरी होता है जिसमे आप अपना होटल बना सकते है. आप किस तरह का होटल बनाना चाहते है अपने होटल के बिज़नेस के लिए कितना इन्वेस्टमेंट कर सकते है, यह बाते भी जरुरी है.

इसके अलावा आपको होटल का बिज़नेस करने के लिए कई तरह के रजिस्ट्रेशन और परमिट (बिल्डिंग परमिट, फायर सेफ्टी परमिट, FSSAI फ़ूड रजिस्ट्रेशन, GST रजिस्ट्रेशन, बिज़नेस रजिस्ट्रेशन, पुलिस लाइसेंस) भी लेना जरुरी होते है नहीं तो आपका होटल गैरकानूनी माना जाता है.

अपने बिज़नेस को सक्सेसस करने के लिए और लम्बे समय तक टिके रहने के लिए सभी तरह के कानूनी नियमो का पालन करे और पूरी तरह मान्यता प्राप्त करे. इसके अलावा आप अपने होटल को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर ले जाकर उसका प्रमोशन और मार्केटिंग कर अधिक ग्राहक को प्राप्त कर सकते है और ज्यादा पैसा कमा सकते है.

होटल के बिज़नेस के लिए लाइसेंस, कर्मचारी और  GST नंबर भी रखे ताकि आपके होटल में किसी तरह की परेशानिया ना आ सके. आप अपने होटल में रहने की और खाने की अच्छी व्यवस्था रखे ताकि आपके ग्राहक एक बेहतर सुविधा का आनंद प्राप्त कर सके.

होटल का लाइसेंस कैसे मिलता है

होटल के बिज़नेस को शुरू करने के लिए आपको कई तरह के परमिट और रजिस्ट्रेशन की जरुरत होती है जिसे आप अलग-अलग विभाग से प्राप्त करते है.

सारे रजिस्ट्रेशन और परमिट मिल जाने के बाद आपको लाइसेंस की जरुरत पड़ती है. लाइसेंस के लिए आपको नगर निगम और नगर पालिका निगम की अनुमति लेनी पड़ती है.

होटल और रेस्टोरेंट में क्या अंतर होता है

होटल और रेस्टॉरेंट में बहुत फर्क होता है. होटल में आपको रहने के लिए कमरा, खाने के लिए खाना, रूम सर्विस, रूम में Ac और टीवी की सुविधा भी मिल जाती है जबकि रेस्टॉरेंट में आपको केवल खाने की चीजे ही मिलती है. मतलब यह ढाबो की तरह ही होता है पर उनसे बेहतर होता है. 

Hotel Ka Business – FAQs 
Hotel Ke Liye License Kaha Se Le

होटल के लाइसेंस के लिए नगर पालिक निगम और नगर निगम की परमिशन लेना जरुरी होता है.

Hotel Ke Business Me Kya Kya Service Hoti Hai

होटल में रहने के लिए रूम, खाने की व्यवस्था, लेट-बाथ, टीवी, Ac और रूम सर्विस आदि कई तरह की सुविधाएं और सर्विसेज होती है.

Hotel Ke Business Me Kitna Profit Hota Hai

होटल के बिज़नेस से होने वाले प्रॉफिट का अंदाजा लगा पाना थोड़ा मुश्किल होता है क्योकि इस बिज़नेस में प्रॉफिट के साथ-साथ कुछ लॉस भी हो सकता है. पर एक चीज मानी जाए तो होटल बिज़नेस से लाखो रुपये भी कमाए जा सकते है.

Hotel Ke Business Ko Pramote Kaise Kare

होटल के बिज़नेस को प्रमोट करने के लिए आप उसकी मार्केटिंग कर सकते है. यह मार्केटिंग ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीको से की जा सकती है. आज के समय में कई छोटे-बड़े होटल ऑनलाइन अपना प्रमोशन कर अच्छे पैसे कमा रहे है.

उम्मीद करते है आपको हमारी यह पोस्ट Hotel Ka Business Kaise Kare और लाइसेंस कैसे मिलेगा और कितने पैसे लगेंगे पसंद आई होगी.

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर कर दीजिए और इस आर्टिकल से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो उसे आप नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर के पूछ सकते हैं.

यह पोस्ट पढ़े :-