Interest क्या होता है – Simple/Compound Interest का Formula कैसे लगाए

इस पोस्‍ट में जानेंगे कि Interest Kya Hota Hai, Simple Interest Kya Hota Hai और Compound Interest Kya Hota Hai.

इस पोस्ट में हम बैंकों द्वारा मिलने वाले ब्याज और Fixed Deposit पर मिलने वाले ब्याज के बारे में जानेंगे और उदाहरणों की मदद से Interest को समझेंगे.

Finance जगत में Interest शब्द का इस्तमाल सबसे ज्यादा किया जाता है और इसी में Simple Interest और Compound Interest का उपयोग भी बहुत किया जाता है.

Interest Kya Hai-Simple Interest and Compound Interest in Hindi
Interest क्या होता है – Simple/Compound Interest का Formula कैसे लगाए

Interest Kya Hota Hai

Interest को हम हिन्दी में ब्याज कहते है. जब भी हम किसी व्यक्ति को पैसे उधार देते है तब हम उस व्यक्ति से उन पैसों का उपयोग करने के बदले में कुछ प्रतिशत ब्याज लेता है जिसे हम Interest कहते है.

यहाँ हम Interest की दर खुद तय करता है एक निश्चित समय अवधि के साथ ताकि हम जान सके की हमें कितना Interest मिलेगा. Interest calculate करने के लिए हमें कुछ बाते हमेशा ध्यान में रखनी है ताकि हम सही तरह से Interest Calculate कर पाए.

Interest Calculate करने के लिए हमें मूलधन (Principal) , ब्याज कि दर (Rate) और समय अवधि (Time) निश्चित होना जरूरी है तभी हम Interest को सही तरह से Calculate कर पाएंगे.

Simple Interest Kya Hota Hai

Simple Interest को हम हिन्दी भाषा में “साधारण ब्याज” कहते है. जिसे हम एक निश्चित समय की अवधि पर लगने वाले ब्याज को जानने के लिए उपयोग करते है.

जब भी हम किसी व्यक्ति को पैसे उधार देते है तब हम उन पैसों पर एक निश्चित समय के लिए ब्याज लेते है जिसे हम साधारण ब्याज कहते है तो चालिए उदाहरण की मदद से समझते है Simple Interest को कैसे Calculate करते है.

उदाहरण: के तौर पर मान ले कि आप अपने 1500 रुपये Fixed Deposit में 9% की दर पर 1 वर्ष के लिये निवेश कर रहे है तो अब आपको अपने निवेश पर 1 वर्ष बाद कितना Return मिलेगा.

आपको 1 वर्ष के बाद 1500 रुपये पर 9% की दर से 135 रुपये Return ब्याज मिलेगा तो आपकी कुल राशि हुई 1635 रुपये।

हमने कैसे जाना कि 1500 रुपये पर 9% की दर पर 1 वर्ष में कितना ब्याज मिलेगा ?

यह जानने के लिए हमने साधारण ब्याज Simple Interest Formula का उपयोग करेंगे, कैसे चालिए जानते है ?

Simple Interest Ka Formula

Simple Interest = Principle X Time X Rate/100 = Interest

Simple Interest Formula in Hindi
Simple Interest Ka Formula

Compound Interest Kya Hota Hai

Compound Interest को हम हिन्दी में “चक्रवृद्धि ब्याज” कहते है. चक्रवृद्धि ब्याज का उपयोग हम ब्याज पर ब्याज की गणना करने के लिए करते है इसे भी हम एक उदाहरण की सहायता से समझेंगे कि कैसे Compound Interest कम करता है.

उदाहरण के तौर पर हम बैंकों के द्वारा Saving Account पर मिलने बाले ब्याज की गणना करेंगे। मान लेते है कि आपने बैंक में अपने बचत खाते में 1500 रुपये जमा किए और उन पैसों को 6 वर्ष तक नहीं निकाला तो.

आपको बैंक आपकी जमा राशि पर कितना ब्याज देगा। मान लेते है कि आपका बैंक आपको आपके बचत खाते पर 4.3 %  के हिसाब से Quarterly यानी त्रैमासिक ब्याज सालाना देता है तो आपको 6 वर्ष बाद आपका बैंक बचत खाते में 1938.84 रुपये देगा,

हमने Compound Interest कैसे Calculate किया?

Compounding Interest को Calculate करने के लिए हमने Compound Interest Formula का उपयोग किया है तो चालिए जानते है Compound Interest कैसे Calculate किया जाता है।

चक्रवृद्धि ब्याज की गणना के लिये निम्नलिखित सूत्र प्रयुक्त होता है:

  • P = मूलधन (प्रारम्भ में लिया/दिया/जमा किया गया धन)
  • r = ब्याज की वार्षिक दर (दस प्रतिशत ब्याज दर के लिये r=०.१०)
  • n = एक वर्ष में कुल ब्याज-चक्रों की संख्या
  • t = कुल समय (वर्ष में)
  • A = t समय बाद मिश्रधन
Chakravridhi Byaj Ka Formula

Compound Interest Formula: A=P(1+R/N)nt

Compound interest in Hindi
Chakravridhi Byaj Ka Formula

अतः 6 वर्ष बाद मिश्रधन लगभग रू 1,938.84 होगा।

अब आप जान गए है कि किस तरह आपको Saving Account और Fixed Deposit में ब्याज दिया जाता है और किस तरह से हम इन व्याजों की गणना कर सकते है.

Simple/Compound Interest – FAQ
Muldhan Kise Kahate Hain

किसी को ब्याज पर दिए जाने वाले पैसों को मूलधन कहते है.

Muldhan Ko English Mein Kya Kahate Hain

मूलधन को English में Principle Money कहते है.

Interest Ka Matlab Kya Hota Hai

किसी मूलधन का प्रतिशत जो कि एक शुल्क के रूप में एक निश्चित अवधि में अदा किया जाता है उसे हम “ब्याज (Byaj)” कहते है.

उम्मीद है आपको हमारी यह पोस्ट Interest Kya Hota Hai, Simple Interest Kya Hota Hai और Compound Interest Kya Hota Hai पसंद आई होगी. इसी तरह की पोस्ट पढ़ने के लिए हमारे Newsletter को Subscribe करें और Facebook Page को Like करें.

अगर आपके पास कोई सुझाव है या सवाल है जो आप हमसे पुछना चाहते है तो आप Comment करके पुछ सकते है.

यह पोस्ट पढ़े :-