Apne Business Ki Franchise Kaise Banaye | Franchisee Model क्या है

आप बिज़नस कर रहे है तो आपने Franchise Business के बारे में तो सुना ही होगा. कुछ लोग तो किसी भी बड़े ब्रांड से franchise लेकर ही अपना बिज़नस करने लग गये है. इस बिज़नस को करने से उनको बहुत फायदा भी होता है क्योंकि उनको इससे अपना खुद का नया ब्रांड नहीं बनाना पड़ता है.

इस तरह के बिज़नस करना तो सही रहता है पर वो लोग इसमें इतने रूपए नहीं कमा सकते है जितना वो खुद का ब्रांड बना कर लोगो में franchise को देकर कमा सकते है.

अगर आपका ब्रांड बहुत अच्छा बन गया है या आप उस ब्रांड को अच्छा बनाना चाह रहे है तो आप भी franchise के बिज़नस को करके बिना मेहनत किये बहुत अधिक रूपए कमा सकते है.

पर अगर आपके बिज़नस के ब्रांड का नाम बहुत अच्छा है और आप ज्यादा रूपए कमाना चाहते है तो आपको अपने बिज़नस की फ्रेंचाइजी देना पड़ेगा. आज हम जानेंगे की आप अपने बिज़नस की फ्रेंचाइजी लोगो को कैसे दे सकते है.

हम सबसे पहले Franchise का मतलब समझ लेते है. तो चलिए जानते है Meaning Of Franchises.

Meaning Of Franchises

Franchise बिज़नस एक एसा बिज़नस होता है, जिसमे कंपनी का मालिक अपनी कंपनी  के सामान को किसी दुसरे लोग को बेचता है. वो व्यक्ति उस कंपनी का नाम इस्तेमाल करके उस सामान को लोगो में बेचता है और वो भी इससे मुनाफा कमाता है और इससे कंपनी के मालिक के ब्रांड का नाम लोगो में प्रसिद्ध हो जाता है.

इससे आपका बिज़नस को बहुत जल्दी सफलता हासिल होने की उम्मीद होती है. अब हम जानते है की आप अपने बिज़नस की franchise कैसे बनाये. तो चलिए जानते है Apne Business Ki Franchise Kaise Banaye.

Business Ki Franchisee Kaise Banaye In Hindi
Business Ki Franchisee Kaise Banaye In Hindi

Apne Business Ki Franchise Kaise Banaye

आपको अपने बिज़नस की franchise बनाने के लिए परेशनियों का सामना नहीं करना पड़ता है. इसके लिए आपको सबसे पहले अपने ही ब्रांड को बहुत अच्छा बनाना पड़ता है.

अगर आप अपने ब्रांड को एक बहुत अच्छा ब्रांड बना लेते है तो लोग आपके पास खुद आते है franchise लेने के लिए. आप उनको franchise देने के लिए आप उसको अपना ब्रांड का नाम इस्तेमाल करने की इजाजत दे दीजिये. आप उसको अपने द्वारा बनाये गये प्रोडक्ट को दे दीजिये.

वो आपके सामान को आम लोगो में बेचेगा. जब भी उसके पास सामान ख़त्म हो जाये आप उसको सामान भेजते रहे और उससे रूपए लेते रहे. अगर आपके ब्रांड का नाम बहुत ही अच्छा है तो आप उससे आपके नाम इस्तेमाल करने के भी रूपए ले सकते है.

इस तरह से आप अपने सामान को बेचने के साथ-साथ Market में अपना नाम भी कमाते है. अब हम जानते है की आप अपने बिज़नस की franchise देने के लिए Agreement कैसे बनाये. तो चलिए जानते है Franchise Business Ka Agreement Kaise Banaye.

Franchise Business Ka Agreement Kaise Banaye

Franchise के बिज़नस में आपको Agreement की आवश्यकता होती ही है. बिना अग्रीमेंट के आप किसी को भी अपनी कंपनी की फ्रेंचाइजी नहीं दे सकते है.

फ्रेंचाइजी बिज़नस का agreement एक एसा Agreement होता है, जिसमे एक Franchiser के franchise लेने के नियम होते है. अगर एक Franchisee को अपना बिज़नस करना है तो उसको इसमें लिखी हर सारी term and condition को मानना पड़ता है. इसके बाद ही एक franchiser किसी दुसरे व्यक्ति को अपनी कंपनी की franchisee देता है.

इस Agreement को रखना क्यों जरुरी है ? क्योंकि भारत सरकार में ऐसे कानून है जिनको आपको ध्यान में रखना चाहिए.

  • Franchise का Agreement भारत सरकार के Contract Act 1872 के तहत होता है. इस Act में Copyright कानून और Trademark कानून के बारे में बताया गया है.
  • Competition Act, 2002 के तहत आपके सामान के उत्पादन, Market में Sale, आपूर्ति या नियंत्रण के ऊपर अपना प्रभाव डालना मना है.
  • अगर आपके सामान को उसकी दुकान में जाने में कमी होती है या उसकी दुकान पर सामान नहीं पहुचता है तो  Consumer Protection Act के तहत वो आप पर Complaint कर सकता है.
  • जब आपके बिज़नस के बिच में विदेसी मुद्रा और विदेशी संपत्ति होती है तो इसके लिए The Foreign Exchange Management Act, 1999 लागु होगा.

ये कुछ प्रमुख कानून थे जो आपको इस बिज़नस में बहुत सहायता भी करते है. इससे आपका ब्रांड का नाम जब ख़राब होने लग जाये तब आप उससे अपनी franchise वापस ले सकते है.

अब हम जानते है की आपको इस बिज़नस को करने के लिए कौन-कौन से Model इस्तेमाल में आते है. तो चलिए हम सबसे पहले जानते है FOCO Franchise Model Kya Hai.

FOCO Franchise Model Kya Hai

FOCO का पूरा नाम होता है Franchisee Owned Company Operated. इस Model में रूपए सारे Franchiseeलगाता है पर इस बिज़नस को चलाते है.  इस तरह के Model में आपको फायदा ये होता है की इसमें आप ही इसको अपने हिसाब से चलाते है. इसमें Franchisee बीएस अपने रूपए लगाने होते है.

इस तरह के Model में आपको Franchisee के साथ Profit भी बराबर बाटना होता है. अब हम अगले Model को जानते है COCO Franchise Model Kya Hai.

COCO Franchise Model Kya Hai

COCO Model का मतलब Company Owned Company Operated होता है. इस Model में रूपए भी Company के होते है और Branch को चलती भी कंपनी ही है.

इससे आपको फायदा ये होता है की जब आप इस Model अपनी कुछ Branch को खोल लेते है तो बाद में लोग आपके पास खुद आकर आपकी Franchisee को लेते है. जिससे आपको बहुत फायदा होता है.

अब हम जानते है अगले मोडल को जिसका नाम है COFO Model.

COFO Model Kya Hai

इस मॉडल में का मतलब होता है Company Owned Franchisee Operated. इस तरह के Model में Company अपने रूपए इन्वेस्ट करती है और इसको फ्रेंचाइजी अपने हिसाब से चलाता है.

इस Model में आपको आपका Profit मिलता जाता है. अब हम अगले Model के बारे में जानते है की FOFO Franchise Model Kya Hai.

FOFO Franchise Model Kya Hai

इस Model का मतलब Franchisee Owned Franchisee Operated है. इस बिज़नस में इस बिज़नस Model में रूपए भी Franchisee के लगते है और इसको चलाता भी Franchisee है. इसमें आपको आपका Profit मिलता रहता है.

इससे आपको ये फायदा होता है की इसमें आपको मेहनत करने की जरुरत नहीं होती है. अब हम जानते है की आप अपने बिज़नस के लिए कोनसा Model को चुने जिससे आपको फायदा ज्यादा हो. तो चलिए जानते है Apne Business Ke Liye Best Franchise Model Kaise Banaye.

Apne Business Ke Liye Best Franchise Model Kaise Banaye

आप अपने बिज़नस के लिएय बहुत ही सोच समझ कर Franchisee दे. सभी Model अच्छे है पर आपको अपनी Company को समझना होगा और आपको ये भी देखना होगा की जो Franchisee ले रहा है वो आपको Profit कितना देगा. या फिर वो आपकी कंपनी का नाम तो ख़राब नहीं करेगा.

अगर आप चाहते है की उस पर आपका पूरा हक रहे तो आप इसके लिए FOCO Model कर सकते है. जिसमे Franchisee के ऊपर आपका हक़ रहेगा.

अब हम जानते है की आप अपनी Company की Franchisee  की फीस क्या रख सकते है जिससे आपको ज्यादा फायदा होता है. तो चलिए जानते है Apni Franchise Ki Fees Kya Rakhe.

Apni Franchise Ki Fees Kya Rakhe

अगर आपका ब्रांड बहुत बड़ा है तो आप इसके लिए कम से कम 1,00,000 रूपए भी इसकी फीस रख सकते है. अगर आपका ब्रांड ज्यादा बड़ा नहीं है टीओ आप इसके लिए कम से कम 50,000 अपनी फीस रख सकते है.

ये रूपए आप अपनी Company की Franchisee देने से पहले ही ले लीजिये. इससे आपको बहुत फायदा हो जायेगा. अब हम जानते है की आप अपने Franchisee से रॉयल्टी कितनी ले सकते है जिससे आपको बहुत ज्यादा फायदा होता है. तो चलिए जानते है Franchise Se Franchise Royalty Fee Kaise Le.

Franchise Se Franchise Royalty Fee Kaise Le

आप पानी Company के लिए रॉयल्टी को Profit के हिसाब से रखिये. आप इसके लिए Profit के कम से कम 30% भी रख सकते है. इससे होगा ये की आपका Franchisee जितने भी रूपए कमाएगा आपको उसके हिसाब से रूपए मिलते रहेंगे. इससे Franchisee के ऊपर भी ज्यादा भर नहीं आएगा और आपको भी इससे नुकशान का सामना नहीं करना पड़ेगा.

अब हम जानते है की आप अपनी Company की Franchisee की मार्केटिंग कैसे करे. तो चलिए जनते है Franchise Ki Marketing Kaise Kare.

Franchise Ki Marketing Kaise Kare

Franchisee की मार्केटिंग आप 2 तरह से कर सकते है

  1. Online
  2. Offline

Online Marketing करने के लिए आप Facebook या फिर Google का सहारा ले सकते है. आप यहा पर Advertisment चला कर लोगो को बता सकते है की आपकी Company Franchisee देती है

Offline Marketing करने के लिए आप लोगो में इसके लिए पर्चे बटवा सकते है. या फिर आप इसके लिए एक ब्रोकर भी रख सकते है जो आपको Franchisee के लिए लोगो के Offer को लाकर देगा.