तहसीलदार कैसे बने, कौन होता है, Syllabus, Salary, Age

आज हम आपको इस Article की मदद से बताएँगे की तहसीलदार कैसे बने और तहसीलदार कौन होता है की पूरी जानकारी.

साथ ही हम आपको तहसीलदार से जुड़े और भी सवालों के जवाब देंगे जैसे की: तहसीलदार परीक्षा अभ्यासक्रम, तहसीलदार की शक्तियां, तहसीलदार की शिकायत कहाँ करे, इत्यादि की पूरी जानकारी के लिए यह Article विस्तार में पढ़ें.

तो चलिए शुरू करते हैं Article तहसीलदार कैसे बने पढ़ने से…

Tahsildar Kaise Bane, कौन होता है, Syllabus, Salary, Age
तहसीलदार कैसे बने, कौन होता है, Syllabus, Salary, Age

Tahsildar Kon Hota Hai

तहसीलदार अपने तहसील का राजस्व प्रभारी होता है. तहसीलदार को कर अधिकारी भी कहा जाता है. तहसीलदार के कार्यो के अंतर्गत भूमि राजस्व, राजस्व रिकॉर्ड, फसल के आंकडे इत्यदि आते हैं.

यह अपनी तहसील का भू-राजस्व के रूप में कर का संग्रह करने का प्रभारी होता है. तहसीलदार को तहसील के कार्यकारी मजिस्ट्रेट के नाम से भी जाना जाता है. तहसीलदार राजस्व से जुड़े सभी रिकॉर्ड और खातों की सुरक्षा करने के लिए ज़िम्मेदार होता है.

एक राज्य के अंदर कई तहसील होते हैं. राज्य के हर एक तहसील में एक तहसीलदार नियुक्ति होता है. यह अपने तहसील के सभी क्षेत्रों के  सरकारी कार्यो को करता है.

Tahsildar Kaise Bane

तहसीलदार बनने के लिए नागरिक का शैक्षणिक रूप से पढ़ा लिखा होना जरुरी है. तहसीलदार बनने के कुछ Steps इस प्रकार है:-

  • 12 कक्षा पास करें: सबसे पहले किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12th पास करें. आप किसी भी विषय स्ट्रीम से 12th पास कर सकते हैं. इसमें कोई Specific विषय निर्धारित नही होता है. आप Science, Commerce, Arts इत्यदि विकल्प को चुनकर 12th पास कर सकते है.
  • Graduation की पढाई पूरी करें: 12वी पास होने के बाद आप अपने Graduation की पढ़ाई को पूरा करें. ग्रेजुएशन पूरा होने के बाद ही आप तहसीलदार पद के लिए आवेदन कर सकते हैं.
    • ग्रेजुएशन पूरा होने के बाद Candidate राज्य सेवा सिविल परीक्षा देने के योग्य हो जाता हैं.
    • ग्रेजुएशन की पढ़ाई आप कसी भी विषय से Complete कर सकते है.
    • यदि आप 12th के बाद तहसीलदर बनने का निश्चय किया है तब आप ग्रेजुएशन की पढ़ाई के लिए आर्ट्स विषय का चयन कर सकते हैं.
  • तहसीलदार भर्ती के लिए आवेदन करें: ग्रेजुएशन पूरा होने के बाद या ग्रेजुएशन के आखरी वर्ष में तहसीलदार भर्ती के लिए आवेदन करें. राज्य सरकार समय-समय पर तहसीलदार पद के लिए आवेदन जारी करती है. जब यह आवेदन जारी किए जाते है तब आप इस पद के लिए अप्लाई कर सकते हैं. यह परीक्षा तीन चरण में होती है.
  • तहसीलदार परीक्षा पास करें: मुख्य एग्जाम में पेपर 4 भागों में होते हैं. पहले भाग में सामान्य अध्ययन 1 और सामान्य अध्ययन 2 का पेपर होता है. इसके बाद निबंध लेखन और सामान्य हिंदी पाठ्यक्रम की परीक्षा होती है.
  • तहसीलदार चयन प्रकिया: तहसीलदार की परीक्षा State Civil Service के द्वारा जारी की जाती है. यह परीक्षा तीन भागों में होती है.
    • Screening Test: Candidate को Main एग्जाम से पहले Screening Test देना होता है.
      • Test में पास Candidate ही Main एग्जाम में शामिल हो सकते हैं.
      • Screening Test को तहसीलदार परीक्षा का पहला चरण कहते हैं.
    • Main Exam: Screening Test को पास करने के बाद Candidate Main एग्जाम दे सकता है.
      • मुख्य एग्जाम में 4 लिखित परीक्षा शामिल होती है.
      • इस एग्जाम में विस्तार प्रश्न पूछे जाते है.
      • इस परीक्षा को पास करने के बाद Candidate इंटरव्यू दे सकता है.
    • Interview: इंटरव्यू में Screening Test और Main एग्जाम पास करने वाले Candidate ही शामिल हो सकते हैं.
      • इंटरव्यू, तहसीलदार एग्जाम का आखरी चरण होता है.
      • इस चरण में Candidate से प्रश्न पूछे जाते है.
      • इस पद के लिए Candidate को इंटरव्यू पास करना जरुरी होता है.
      • इंटरव्यू प्रकिया पूरी होने के बाद मेरिट List तैयार होती है.
      • Merit List के आधार पर ही तहसीलदार की नियुक्ति होती है.

तहसीलदार परीक्षा अभ्यासक्रम

तहसीलदार परीक्षा अभ्यास क्रम इस प्रकार है:

  • समान्य अध्ययन प्रश्न पत्र 1: भारत का इतिहास से सम्बंधित, उत्तर प्रदेश के विषय में विशिष्ट ज्ञान.
  • सामान्य अध्ययन प्रश्न पत्र 2: भारतीय राजनीति से संबंधित
  • निबंध लेखन: निबंध लेखन के तीन भाग होते है. चयन विषय पर 700 शब्द का निबंध लिखना होता है.
    • भाग 1: सहित्य और संस्कृति, सामाजिक क्षेत्र, राजनीतिक क्षेत्र.
    • भाग 2: विज्ञान, पर्यावरण और प्रधौगिकी, अर्थिक क्षेत्र, क्रषि, उधोग, व्यापार.
    • भाग 3: National और International Tragedy, प्राकृतिक आपदा, नेशनल Development Events और परियोजनाएँ.
    • सामान्य हिंदी पाठ्यक्रम
Tahsildar Kise Kahate Hain

तहसील का संचालन करने वाले व्यक्ति को तहसीलदार कहते है. देश के प्रत्येक राज्य में कई तहसील होती है. राज्य की हर एक तहसील में एक तहसीलदार होता है.

तहसीलदार नियुक्ति की गई तहसील का मुखिया होता है. इसका काम तहसील का संचालन करना होता है. तहसीलदार का कार्य तहसील के अंतर्गत आने वाले सभी ग्रामीण क्षेत्रों में सरकार द्वारा जारी परियोजनाओं को लागू करके क्षेत्र का विकास करना होता है.

तहसीलदार की शक्तियां

तहसीलदार की शक्तियाँ इस प्रकार हैं:-

  • तहसीलदार अपनी तहसील का राजस्व प्रभारी होता है.
  • राजस्व से सम्बधित सभी रिकॉर्ड की जिम्मेदारी होती है.
  • भूमि का निपटारा करने का अधिकार होता है.
  • भूमि आवंटन का अधिकार तहसीलदार के पास होता है.
  • सरकरी धन को सुरक्षित रखने का अधिकार होता है.
  • राजस्व वसूली करने का अधिकार होता है.

Tahsildar Ka Kya Kaam Hota Hai

तहसीलदार के काम इस प्रकार हैं:

  • भूमि से जुड़े मामलों का निपटारा करना.
  • लेखपालो और कानूनों के कार्यो का निरक्षण करना.
  • पटवारी द्वारा किए गए कार्यो का निरक्षण करना.
  • सरकारी धन को सुरक्षित रखने का काम करना.
  • भूमि आवंटन का कार्य करना.
  • राजस्व की वसूली करना.
  • अपने तहसील से जुड़े मुकदमो की जानकारी रखना.
  • प्राकतिक आपदाओं का निपटारा करना.
  • राजस्व से सम्बंधित सभी रिकॉर्ड का रखरखाव करना.
Tahsildar Ko Application Kaise Likhe

तहसीलदार को Application इस प्रकार लिख सकते हैं. आप यदि शिकायत के लिए आवेदन पत्र लिख रहें है, तो निचे दिए Steps को Follow करे:

  • सबसे पहले सेवा में तहसीलदार और तहसील का पता लिखे.
  • इसके बाद विषय के स्थान में कार्य की शिकायत लिखें.
  • इसके बाद महोदय के बाद शिकायत से जुडी जानकारी और कारण साथ लिखे.
  • इसके बाद आखरी में दिनाँक, प्रार्थी का नाम, पता, फ़ोन नंबर इत्यदि को लिख दें.

तहसीलदार की शिकायत कहां करें

तहसीलदार की शिकायत इस प्रकार कर सकते हैं:

  • जिला कलेक्टर से आवेदन के माध्यम से तहसीलदार की शिकायत कर सकते हैं.
  • टोल Free नंबर- 18001802137 के द्वारा भी तहसीलदार की शिकायत कर सकते हैं.
  • जन सुनवाई पोर्टल के द्वारा तहसीलदार की शिकायत कर सकते हैं.
  • जन सुनवाई Portal- Jansunwai.Up.Nic.In

Tehsildar Kaise Bane

तहसीलदार बनने के कुछ Steps इस प्रकार हैं:

  • सबसे पहले 12th क्लास की पढ़ाई पूरी करें.
  • 12th की पढ़ाई पूरी होने के बाद अपना ग्रेजुएशन पूरा करें.
  • Graduation पूर्ण होने दौरान ही तहसीलदार पद के लिए आवेदन कर दें.
  • तहसीलदार की लिखित परीक्षा के Syllabus की जानकारी लें.
  • Syllabus के अनुसार परीक्षा की तैयारी करें.
  • इसमें Screening Test और मुख्य परीक्षा को Clear करें.
  • इसके बाद आखरी चरण में इंटरव्यू को पास करें.
  • इंटरव्यू पास करने के बाद Merit List बनती है.
  • Merit List में नाम आने के बाद ही तहसीलदार पद की नियुक्ति होती है.
Tehsildar Kaise Bane – FAQs
तहसीलदार से बड़ा कौन है

तहसीलदार से बड़ा SDM होता है.

Tehsildar Meaning in Hindi

तहसील का मुख्य अधिकारी होता है.

Tahsildar Ki Salary

तहसीलदार की सैलरी: 9,200रु से 34,800 रू तक होती है. इसके साथ ही तहसीलदार की नियुक्ति के बाद सरकार द्वारा घर, वाहन और अन्य सुविधाओं की Facilities दी जाती है.

तहसीलदार का अर्थ

तहसीलदार का अर्थ तहसील का प्रधान अधिकारी होता है.

Tahsildar Kya Hota Hai

तहसीलदार अपने तहसील का राजस्व प्रभारी होता है.

तहसीलदार का मोबाइल नंबर

प्रत्येक तहसील का तहसीलदार अलग-अलग होता है. तहसीलदार के मोबाइल नंबर के लिए आप Online जिला श्रावस्ती की Official Site में जाकर जिला तहसीलदार का नंबर प्राप्त कर सकते हैं.

तहसीलदार कौन है

तहसीलदार अपने तहसील का मुख्य अधिकारी है. इसका काम तहसील का संचालन करना होता है. तहसील में जुड़े भूमि और आवंटन सम्बंधी मामलों को सुलझा कर उनका निपटारा करने का होता है.

Tahsildar Age Limit

तहसीलदार बनने की न्यूनतम उम्र 18 साल से 37 साल तक होती है.

अगर आपको हमारी यह पोस्ट Tahsildar Kaise Bane पसंद आई तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर और अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप Comment कर के पूछ सकते है.

यह पोस्ट पढ़े :-