ब्याज का बिजनेस कैसे करे – ब्याज पर पैसा देने के नियम,ब्याज का धंधा कैसे करें

ब्याज पर पैसे देने का व्यापार काफी पुराना है जिसमे आपको बिना मेहनत किये मुनाफा मिलता है. इस व्यापार को बैंक, फाइनेंस कंपनी और आमिर लोग करते है क्योंकी यह वो काम है जिसमे आपको मेहनत नहीं करनी पढ़ती .

ब्याज के व्यापार की सबसे अच्छी बात यह है की इसे कोई भी कर सकता है. क्योंकी ब्याज के व्यापार में कोई रकम फिक्स नहीं होती, की, आपके पास इतने रूपए होने चाहिए ब्याज का व्यापार करने के लिए.

लेकिन फिर भी इस व्यापार के अपने फायदे नुकसान है और कुछ नियम भी तो चलिए इस पोस्ट में  जानते है की ब्याज का व्यापार कैसे करे और इसमें बिना मेहनत  किये मुनाफा कैसे कमाए . तो चलिए जानते है की Byaj Ka Business Kaise Kare.

Byaj Ka Business Kaise Kare In Hindi
Byaj Ka Business Kaise Kare In Hindi

Byaj Ka Business Kaise Kare

ब्याज का व्यापार कैसे करें: ब्याज का बिज़नस करने का सबसे पहला नियम है की आपके पास ब्याज पर पैसे देने के लिए इतने रूपए होने चाहिए ताकि आप अगर किसी और को वो रूपए उधार दे तो आपको कोई परेशानी न हो .

क्योंकी जब भी कोई व्यक्ति आपसे रूपए ब्याज पर उधार लेता है तो वह व्यक्ति आपसे रूपए, एक सीमित समय के लिए ब्याज पर लेता है जिसमे आप उस व्यक्ति से ब्याज लेते है और उसे आपके उधार दिए गए रुपयों को उपयोग करने देते है .

ब्याज पर रूपए उधार देने में कोई बुरे नहीं है लेकिन इस काम में जितना फायेदा है उतना नुकसान भी है तो इसके लिए आपको सबसे पहले ब्याज के बिज़नस के फायदे और नुकसान जान लेना चाहिए .

ब्याज पर पैसा देने के नियम

ब्याज पर पैसा देने के नियम निम्न प्रकार हैं

नियम 1:- संविदा अधिनियम 1872 के धारा 10 के अनुसार अगर आप किसी व्यक्ति को भी ब्याज पर पैसे देते हैं तो जिस व्यक्ति ने आपसे कर्ज लिया है उस व्यक्ति से आपको लिखित में एग्रीमेंट ले लेना चाहिए जिसमे कर्ज की राशी और कर्ज के रूप में रूपये लेने का मकसद, रूपये वापस करने का समाये तिथि और ब्याज दर आदि का स्पष्ट रूप से उल्लेख होना चाहिये

नियम 2:-संविदा अधिनियम 1872 के धारा 11 के अनुसार आप जिस भी व्यक्ति को पैसा ब्याज पर देना चाहते हैं वह व्यक्ति 18 वर्ष का होना अनिवार्य है। यदि कर्ज लेने वाला व्यक्ति नाबालिग 18 वर्ष से कम का पाया जाता है तो आपका पैसा शून्य माना जाएगा। तथा आप जिस भी व्यक्ति को ब्याज पर पैसा दे रहें हैं वह व्यक्ति नशे की हालत में नहीं होना चाहिए अन्यथा सरकार इसकी वसूली में आपकी कोई मदद नहीं करेगी

नियम 3:- संविदा अधिनियम 1872 के धारा 23 के अनुसार अगर आप किसी ऐसे व्यक्ति को पैसा देते हैं जो की उस पैसे से कोई अवैध (गलत) काम करता है तो ऐसी स्थिति में आपको भी उस अवैध काम में भागीदार माना जाएगा और इसके लिए आपको भी सजा दी जा सकता है।

चलिए जानते है की Byaj Ka Kaam Karne Ke Fayde क्या है .

Byaj Ka Kaam Karne Ke Fayde

ब्याज का काम करने के फायदे: ब्याज पर पैसे देने के बहुत सारे फायदे है. इससे आप बिना कोई परेशानी के अपने पैसों को बढ़ा सकते है. इसमें आपको कोई मेहनत करने की जरूरत नहीं होती और न ही इस बिज़नस को करने में आपको कोई परेशानी का सामना करना पढता.

इस बिज़नस में आपने जिन लोगों को रूपए उधार दिए है वो खुद आकर आपके पैसे ब्याज के साथ देकर जायेंगे जिससे आप घर बैठे बैठे पैसे कमा सकते है .

जितना फायेदा ब्याज के पैसे देने में है उतना इसमें नुकसान भी है . तो चलिए जानते है की Byaj Par Paise Dene Ke Nukshan क्या है .

Byaj Par Paise Dene Ke Nukshan

ब्याज पर पैसे देने के नुकशान: हर बिज़नस को करने में कुछ न कुछ नुकशान होता है.  ठीक उसी तरह इस बिज़नस को करने के भी अपने कुछ नुकशान है. ब्याज पर पैसे देने के भी बहुत नुकशान होता है.

इसमें आपको ये डर रहता है की जिसको आपने पैसे दिए है वो आपके पैसे वापस देगा या नहीं या फिर वो मर गया या फिर किसी वजह से उसकी मौत हो गयी है तो फिर उसके पैसे कोन देगा, आदि जैसी समस्याओ से आपको उलझना पढ़ सकता है.

अगर आप इस समस्या में नहीं पड़ना चाहते हो तो आप कर्जदार को पैसे देने से पहले ही उनसे कुछ गिरवी रखवा ले ताकि अगर कुछ हो जाये या फिर कर्जदार की मौत हो जाये तो आप गिरवी रखी हुई चीज से अपने पैसों के नुकशान की भरपाई कर सके. इससे आपको ये फायदा हो जाएगा की आपको कभी ये डर नहीं होगा की आपके पैसे डूब गये.

पहले के समय में आप बिना किसी कागज़ी कार्यवाही के लोगों को पैसे उधार दे सकते थे. लेकिन आज के समय में यह एक जोखिम का काम हो गया है इसलिए अगर आप नहीं चाहते की आप किसी ऐसे व्यक्ति को उधार रूपए देकर फास जाये जो आपके रुपयों का उपयोग किसी गलत काम में कर रहा हो .

तो इसके लिए आपको ब्याज पर पैसे देने का लाइसेंस ले लेना चाहिए चलिए जानते है की Byaj Par Paise Dene Ka License कैसे ले .

Byaj Par Paise Dene Ka License

ब्याज पर पैसे देने का लाइसेंस: ब्याज पर पैसे देना कोई आम बात नहीं है इसके लिए आपको पहले लाइसेंस लेने की जरुरत होती है जो आप पुलिस स्टेशन जाकर ले सकते हो या फिर आप इसके लिए कोर्ट जाकर लाइसेंस के लिए आवेदन दे सकते है .

कुछ ही दिनों में आपके पास लाइसेंस बन कर आ जायेगा. आप इसके लिए ये बात हमेशा ध्यान रखे की आप इन पैसों का टेक्स भरते रहे नहीं तो आपको इसके लिए बाद में भरी नुकशान उठाना पढ़ सकता है.

Kin Kin Logo Ko Aap Byaj Par Rupay Udhar De Sakte Hai

किन किन लोगो को आप ब्याज पर पैसे उधार दे सकते हैं: ये जानना बहुत ही जरुरी है की आपको किन-किन लोगों को ब्याज पर पैसे उधार देना चाहिए. क्योकि इसमें ये जानना बहुत जरुरी होता है की आप जिस को ब्याज पर पैसे दे रहे हो वो आपको आपके पेसे वापस दे पायेगा की नहीं या फिर वो आपके रूपए कही लेकर भाग तो नहीं जायेगा.

इसके लिए आप सबसे पहले कर्जदार के पिछले लोगो से लिए हुए उधार को देख ले, आप ये जान ले की उसने पहले जितने भी लोगो से ब्याज पर पैसे लिए है वो टाइम पर लोटाये है या नहीं.

अगर नहीं लोटाये तो आप उसको पैसे न दे क्योकि अगर वो उसके पैसे नहीं दे पाया है तो वो आपके पैसे को कैसे लोटा पायेगा.

ब्याज पर पैसे कैसे दे और इसका बिज़नस कैसे करे आप यह तो जान गए चलिए अब जानते है की अपने ब्याज पर पैसे देने के बिज़नस को और कैसे बढ़ाये .

तो चलिए जानते है की Byaj Ka Business Ko Kaise Badhaye.

Byaj Ke Business Ko Kaise Badhaye

ब्याज के बिज़नस को कैसे बढ़ाये: ब्याज का बिज़नस बढाने के लिए आपको ज्यादा परेशानी नहीं आएगी, इस बिज़नस को बढ़ने के लिए आप जो पैसे ब्याज के आये उन्ही पैसे को वापस दुसरे लोगो को ब्याज पर दे दे, जिससे होगा ये की आपकी मूल राशी भी रहेगी  और आपके जो ब्याज के पैसे है वो भी मूल राशी में जुड़ जायेंगे और इसी तरह आपका बिज़नस बहुत आगे बढ़ जायेगा.

यह एक ऐसा व्यापार है जिसे बढ़ाने के लिए आपको कोई मार्केटिंग करने की जरुरत नहीं होती बस आपको लोगों को पैसे देना शुरू करना है और आपका ब्याज का बिज़नस अपने आप बढ़ता चला जायेगा.

यह पोस्ट पढ़े :-